Sunday, May 16, 2010

मेरी गुड़िया...

2 comments:

दिलीप said...

are waah badi pyaari hai...

लोगो ने मुझे कुफ्र बना दिया said...

बचपन की याद ताजा कर दी आप ने